Share This Post

फटा पोस्टर निकला हीरो..

फटा पोस्टर निकला हीरो..

फटा पोस्टर निकला हीरो.. फिल्म हीरो हीरालाल का ये डायलोग आज भी हम तब इस्तेमाल कर लेते है जब कोई धमाकेदार एंट्री लेता है… फिल्मो के कुछ डाय्लोग्स कालजयी हो जाते है.. सबसे कॉमन में शोले का डायलोग आता है.. जब भी कही दो चार लोग चुप बैठे है तो कोई आकर कहेगा “इतना सन्नाटा क्यू है भाई?” या फिर दिवार फिल्म की तर्ज पर.. तुम्हारे पास क्या है पर ये कहना कि मेरे पास माँ है .. इसी डायलोग को फिल्म गुलाल में अलग तरीके से बोला गया.. डायलोग वही है मगर भावनाए बदल गयी है.. फिल्म का एक चरित्र जढ्वाल.. बन्दूक दिखाकर कहता है “मेरे पास माँ है” .. आजकल वैसे भी बन्दूको के साए में ही पलते है बच्चे..

सलीम जावेद की जोड़ी ने हमें कई डाय्लोग्स दिए है.. जिसमे खास तौर पर शोले और दिवार .. याद कीजिये..
————————————————————————-

कितने आदमी थे?

यूँ कि ये कौन बोला?

अब तेरा क्या होगा कालिया ?

सरदार मैंने आपका नमक खाया है

बसंती इन कुत्तो के सामने मत नाचना

ये हाथ हमका दे दे ठाकुर

इतना सन्नाटा क्यों है भाई..

हम अंग्रेजो के जमाने के जेलर है..

हमारा नाम भी सुरमा भोपाली येसे ही नहीं है..

sholay
deewar-wallpaper मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता..पीटर तुम मुझे वहा ढूंढ रहे हो और मैं तुम्हारा यहाँ इंतज़ार कर रहा हूँ..

मेरा बाप चोर है..

खुश तो बहुत होंगे आज तुम..

भाई तुम साइन करते हो या नहीं..

जाओ पहले उस आदमी का साइन लेकर आओ..

मेरे पास माँ है..

आज की बात करे तो मुझे गुलाल.. कमीने .. लक आदि फिल्मो के डाय्लोग्स पसंद आये है.. फिल्म गुलाल के डायलोग अनुराग कश्यप ने लिखे है और कमीने के विशाल भारद्वाज ने.. फिल्म गुलाल में एक किरदार पृथ्वी बना को जब घर से भागते हुए पकड़ा जाता है तो वो कहते है कि रास्ता भूल गया था.. और फिर से कहते है कि इस घर में मैं अकेला ही रास्ता नहीं भूला हूँ..
फिल्म कमीने में जब किरदार गुड्डू प्रियंका चोपड़ा से कहता है कि मेरे पास कंडोम नहीं है तो प्रियंका कहती है.. वैसे भी हमारे बीच कोई तीसरा आये मुझे पसंद नहीं है.. फिल्म में चार्ली स को फ बोलता है संवाद में वो कुछ ऐसे कहता है…
चार्ली : मैं फ को फ बोलता हूँ..
भोपे : अबे फ को फ नहीं तो क्या ल बोलेगा..

ज़रा याद कीजिये गुलाल के कुछ डाय्लोग्स..

gulaal-wallpaper
या तो हांफ ले या बोल ले .. हांफ हांफ के मत बोल..

जो कुछ नहीं कर सकता वो लॉ कर लेता है..

ये सवाल से सबकी फटती क्यों है.. ? कोई जवाब नहीं है इसलिए?

डेमोक्रेसी बची नहीं यहाँ पे और ये बैठके एरिस्टोक्रेसी चाट रहे है..

इस मुल्क ने हर शख्स को जो काम था सौंपा उस शख्स ने उस काम की माचिस जलाके छोड़ दी..

कल छोटी दिवाली थी ना मन में बड़े फटाके फूट रहे थे..

साला हक़ से लिया है पाकिस्तान और लड़ के लेंगे हिन्दुस्तान और कोई बीच में ना आना वरना ले जाऊंगा राजपुताना..

————————————————————————-

kaminey-21
लाईफ बड़ी कुत्ती चीज़ है.. और इस दुनिया में कुत्तो का सिर्फ एक  जवाब है.. कमीने

ज़िन्दगी में हमारी वाट इस से नहीं लगती है कि हम कौनसा रास्ता चुनते है.. वाट लगती है इस से कि हम कौनसा रास्ता छोड़ते है..

पैसा कमाने के दो रास्ते है.. एक फोर्टकट और दूसरा छोटा फोर्टकट

एफे एफे केफे केफे हो गए केफे केफे एफे एफे हो गए..

इसे पता नहीं कि दुनिया कितनी बड़ी हरामजादी है तुम साले कितने बड़े कुत्ते कमीने हो..

दो दशक पहले के डाय्लोग्स और आज के डाय्लोग्स बदल गए है.. किरदार बदल गए है.. ब्लैक एंड व्हाईट कुछ भी नहीं रहा.. सब कुछ ग्रे शेड में हो गया है.. फिर भी कुछ डाय्लोग्स है जो हमेशा ऐसे ही याद किये जाने वाले है.. ऐसे में एवरग्रीन हिंदी फिल्मो के किरदारों के डाय्लोग्स है जो ऑरकुट पर किसी कम्युनिटी में मिले थे..
————————————————————————-
हीरो –
shashi_kapoorतेरे सामने तेरी मौत खड़ी है कुत्ते!!
* तुम्हारे लिए मेरी जान भी हाज़िर है!
* अपने आदमियों से कहो की बंदूकें फेंक दे!
* दुनिया की कोई ताक़त हमे जुदा नही कर सकती!
* मेरे होते हुए तुम्हारा कोई बाल भी बाका नहीं कर सकता!
* माँ, मुझे आशीर्वाद दे!
* पुलिस मेरे पीछे लगी हुई है!
* खबरदार जो उसे हाथ भी लगाया!
* मेरी माँ बहुत बीमार है..
* जब तब अपने बाप के खून का बदला नही ले लेता, चैन से नही बैठूँगा!!
————————————————————————-
हिरोईन –
yogeeta-bali-wallpaper* भगवान के लिए मुझे छोड़ दो!
* हटो. तुम बड़े वो हो !
* नहीं!
* मैं तुम्हारे बगैर नहीं रह सकती!
* प्यार करना कोई गुनाह नहीं!
* कुछ गूंडे मेरे पीछे पड़े है!
* कोई देख लेगा!
* मैने तुम्हे क्या समझा, और तुम क्या निकले!
* तुम मुझसे कितना प्यार करते हो?
* आज तुम नही आते तो पता नही क्या हो जाता!!
* मैं तुम्हारे बच्चे की माँ बनने वाली हू!
————————————————————————-
बहन 
Farida_Jalal1
* मेरे भैया को लंबी उमर देना, भगवान!
* मेरे भाई पे कोई आँच ना आए!
* खबरदार जो मुझे छूआ भी, मैं अपनी जान दे दूँगी!
* भय्या.. तुम तो बस मेरे लिए एक प्यारी सी भाभी ले आओ ..
* भगवान के लिए, मेरा सुहाग मत उजाडो..
* भगवान के लिए मुझे छोड़ दो..
* मैं किसी को मुंह दिखाने लायक ना रही..
* दरवाजा क्यों बंद कर रहे हो..
* ये आप मुझे कहाँ ले जा रहे है..
————————————————————————-
विलेन
jugnu_hook* अब सारे हिन्दुस्तान पर हमारा राज़ होगा!
* बताओ फार्मूला कहाँ है?
* तुम्हारी माँ हमारे क़ब्ज़े मैं है!
* ये सौदा तुम्हे बहुत महंगा पड़ेगा
* इन गोरी गोरी कलाईयों को काम करने की क्या ज़रूरत है!
* यहाँ तेरी इज़्ज़त बचाने कोई नही आएगा!
* बुला तेरे भगवान को– देखता हूँ कौन आता है?
* गद्दारी की एक ही सज़ा होती है, मौत!
* उसकी कोई तो कमज़ोरी होगी, कोई माँ या बहन?
————————————————————————-
डॉक्टर
* आई एम सॉरी!
* इन्हें दवा कि नहीं दुआ की जरुरत है..
* इसका तो बहुत खून बह चुका है. फॉरेन ऑपरेशन करना पड़ेगा!
* भगवान ने चाहा तो सब ठीक होगा!
* बधाई हो, तुम बाप बनने वाले हो!
* इसकी हालत बहुत नाजुक है!
* अरे! इसे तो तेज़ बुखार है!
* अब सब कुछ ऊपर वाले के हाथ में हैं!
* 24 घंटे तक होश नही आया तो….
* बच्चे को तो हमने बचा लिया पर माँ को नहीं बचा सके..
————————————————————————-
पिता 
220px-Madan_Puriएक बार इसके हाथ पीले कर दू, फिर में चैन से मर सकता हू!
* इस घर के दरवाज़े, तुम्हारे लिए हमेशा के लिए बंद है!
* वॉच मैन ! इसे धक्के मारकर बाहर निकाल दो!
* तुम खुद दो वक़्त की रोटी नही खा सकते, मेरी बेटी को क्या खिलाओगे?
* मेरे जीतेज़ी ये शादी नहीं हो सकती!
* मेरी बेटी से प्यार करने से पहले अपनी औकात और हमारी हैसियत तो देखी होती
* मैं जल्द ही दहेज़ की सारी रकम चुका दूँगा!
* यह आप क्या कह रहें है, भाई साहिब!
* गाड़ी रोको ड्राइवर!
* मैं कहता हूँ, दूर हो जा मेरी नजरो से ..
————————————————————————-
माँ Nirupa_Roy_300
* ये कंगन मुझे मेरी सास ने दिए थे..
* मेरा राजा बेटा!
* मेरा आशीर्वाद हमेशा तेरे साथ है!
* मेरा बेटा ऐसा कभी नहीं कर सकता!
* मेरा बेटा तेरी मौत बनकर आएगा,
* एक बार मुझे माँ कह कर पुकारो बेटा…
* मेरे बेटे की रक्षा करना प्रभु!
* मेरे राजा बेटे को आज में अपने हाथो से खिलाऊंगी
* हे भगवान, मेरे सुहाग की रक्षा करना!
* मैने तेरे लिए गाजर का हलवा बनाया है!
* मैने तुम्हे पाल पॉस कर बड़ा किया…
* मार, मार इसे बेटे, इसने तेरे देवता जैसे पिता का खून किया!
* भगवान मैने आजतक तुमसे कुछ नही माँगा!!
* बेटा ये तो…. यह तो खुशी के आंसू है….
————————————————————————-

खैर ये तो रही मेरी बात.. अब कुछ ऐसे ही डाय्लोग्स आपके पास भी तो होंगे.. तो हो जाये दो चार इधर भी..

Share This Post